Home - शारीरिक स्वास्थ्य - अस्थि और जोड़ो की बीमारियाँ - विटामिन डी की कमी का इलाज कैसे करे | VITAMIN D KI KAMI KA ILAJ IN HINDI
VITAMIN D KI KAMI KA ILAJ IN HINDI

विटामिन डी की कमी का इलाज कैसे करे | VITAMIN D KI KAMI KA ILAJ IN HINDI

VITAMIN D KI KAMI KA ILAJ IN HINDI

विटामिन डी क्या है? | ABOUT VITAMIN D IN HINDI

विटामिन डी के बारे में जानने से पहले जानेंगे की आखिर विटामिन किसे कहते है और यह विटामिन लेना क्यों आवश्यक है. विटामिन भोजन के वे अवयव हैं जिनकी सभी जीवों को कम मात्रा में परन्तु आवश्यक रूप से लेने की आवश्यकता होती है। ये कार्बनिक यौगिक होते हैं। विटामिन उसे कहा जाता है जो शरीर द्वारा पर्याप्त मात्रा में शरीर के अंदर तो उत्पन्न नहीं किया जा सकता परन्तु भोजन के रूप में लेना आवश्यक होता है. विटामिन डी वसा-घुलनशील प्रो-हार्मोन का एक समूह होता है। त्वचा जब धूप के संपर्क में आती है तो शरीर में विटामिन डी निर्माण की प्रक्रिया आरंभ होती है। यह मछलियों में भी पाया जाता है। विटामिन डी की मदद से कैल्शियम को शरीर में बनाए रखने में मदद मिलती है जो हड्डियों की मजबूती के लिए अत्यावश्यक होता है। इसके अभाव में हड्डी कमजोर होती हैं व टूट भी सकती हैं। | VITAMIN D KI KAMI KA ILAJ IN HINDI | विटामिन डी शरीर में एक विशेष प्रकार की कोशिकाओं (टी-कोशिकाओं) के कार्य करने की गति वृद्धि करता है, ये टी-कोशिकाओं संक्रमण से शरीर की रक्षा करती हैं। टी-कोशिकाओं का प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने में मुख्य भूमिका होती है. विटामिन डी की पर्याप्त मात्रा के बिना प्रतिरक्षा प्रणाली की टी-कोशिकाएं बाहरी संक्रमण से लड़ने में असमर्थ हो जाती है. जब संक्रमण से सामना होता है, यह विटामिन डी की उपलब्धता के लिए एक संकेत भेजती है। इसलिये टी-कोशिकाओं की सक्रियता के लिए भी विटामिन डी आवश्यक होता है। यदि टी-कोशिकाओं को ब्लड में पर्याप्त विटामिन डी नहीं मिलता, तो वे चलना भी शुरू नहीं करतीं हैं अपना कार्य अच्छे से नही कर पाती है.

विटामिन डी की कमी के लक्षण | VITAMIN D DEFICIENCY SYMPTOMS IN HINDI

• हड्डियों में दर्द
• मांशपेशियों में कमजोरी
• अधिक थकान होना
• ज्यादा नींद आना
• सर से पसीना आना
• बार-बार इन्फेक्शन होना
• सांस लेने से सम्बंधित समस्या
• ब्लड प्रेशर और ब्लड शुगर लेवल हाई बना रहता है
• तनाव एवं उदासी
• मूड पर असर VITAMIN D KI KAMI KA ILAJ IN HINDI
• विटामिन डी की अत्यधिक कमी होने से उनके पैरों की हड्डियां और खोपड़ी कमजोर हो जाती हैं। छूने पर यह हड्डियां नर्म महसूस होती हैं।
• त्वचा का रंग बहुत गहरा होना
• मोटापा

विटामिन डी की कमी को पूरा करने के लिए क्या करें!

VITAMIN D KIS SE MILTA HAI | VITAMIN D KE LIYE KYA KHANA CHAHIYE | FOOD FOR VITAMIN D IN HINDI | VITAMIN D KISME HOTA HAI | VITAMIN D KISME PAYA JATA H

7 660x330 - विटामिन डी की कमी का इलाज कैसे करे | VITAMIN D KI KAMI KA ILAJ IN HINDI

• डेयरी और दूध के बने उत्पादों को अपनी डाइट में जगह देकर आप विटामिन डी की कमी को पूरा कर सकते हैं.
• सूर्य की रोशनी विटामिन डी का बहुत अच्छा स्त्रोत है.
• कॉड लिवर में भी विटामिन डी भरपूर मात्रा होता है. इससे हड्ड‍ियों की कमजोरी दूर होती है.

carrot juice juice carrots vegetable juice 162670 660x330 - विटामिन डी की कमी का इलाज कैसे करे | VITAMIN D KI KAMI KA ILAJ IN HINDI
• विटामिन डी की कमी होने पर गाजर खानी चाहिए.
• मछली के सेवन से भी विटामिन डी की कमी पूरी होती है. अगर आपको मछली पसंद नहीं है तो आप अंडे को भी भोजन में शामिल कर सकते हैं. अन्डो में विटामिन डी पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है.

goldfish carassius fish golden 45910 660x330 - विटामिन डी की कमी का इलाज कैसे करे | VITAMIN D KI KAMI KA ILAJ IN HINDI
• विटामिन D से भरपूर कुछ अन्य आहार – 1. मछली 2. दूध 3. अंडे 4. संतरे का रस 5. अनाज 6. मशरूम 7. ऑइस्टर (कस्तूरी) 8. पनीर 9. कॉड लिवर ऑयल 10. पोर्क (सूअर का मांस)

night 77746 660x330 - विटामिन डी की कमी का इलाज कैसे करे | VITAMIN D KI KAMI KA ILAJ IN HINDI

विटामिन डी की कमी का इलाज | VITAMIN D KI KAMI KA ILAJ IN HINDI

pexels photo 301599 660x330 - विटामिन डी की कमी का इलाज कैसे करे | VITAMIN D KI KAMI KA ILAJ IN HINDI

• धुप में खड़े रहने से. VITAMIN D KI KAMI KA ILAJ IN HINDI

pexels photo 327098 660x330 - विटामिन डी की कमी का इलाज कैसे करे | VITAMIN D KI KAMI KA ILAJ IN HINDI
• भोजन विटामिन डी युक्त आहार को शामिल करे, जैसे- वसायुक्त मछली, माँस, अंडे की जर्दी, दूध, डेरी उत्पाद, पनीर, पोर्क, सोया उत्पाद, मशरुम, सन्तरे का रस इत्यादी.
• इनसे परहेज करे. जैसे- तले वसायुक्त आहार, नमक, शक्कर, और अन्य शक्कर युक्त उत्पादों तथा संतृप्त वसा से भरे आहारों के उपयोग को कम करें। कैफीन विटामिन D के अवशोषण को रोक देते है.
• बाज़ार में आज बहुत सी दवाएं उपलब्ध हैं जिन्हें लेकर हम विटामिन डी की कमी दूर कर सकते हैं। अपने डॉक्टर की सलाह पर ही इनका सेवन करे.


MUST READ:

महिलाएं कैसे बचे कमर के दर्द से

बदहजमी यानी ACUTE GASTRITIS को कैसे दूर करें

शहद खाने के फायदे

Check Also

खजूर बनाएगा सेहत | Khajur Banaye Sehat | Dates will make health

खजूर बनाएगा सेहत | Khajur Banaye Sehat | Dates will make health

खजूर बनाएगा सेहत | Khajur Banaye Sehat | Dates will make health खजूर बनाएगा सेहत  खजूर:- …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

UA-110862200-1