Home - सर्दी- जुखाम - मुठेली से करे सर्दी का उपचार
MULETHI e1510411571641 600x330 - मुठेली से करे सर्दी का उपचार

मुठेली से करे सर्दी का उपचार

मुलेठी एक आयुर्वेदिक औषधि है जिसका उपयोग विविध रोगों के उपचार एवम स्वास्थ्यवर्धन हेतु किया प्राचीनकाल से किया जाता रहा हैं. मुलेठी का वैज्ञानिक नाम लिकोरिस हैं. इसका प्रयोग विभिन्न व्यंजनों के स्वाद्वर्धक हेतु भी होता है. पुरे विश्व में सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाली औषधी है, मुलेठी.

मुलेठी में विटामिन E और B प्रचुर मात्र में पाए जाते है. इनके अतिरिक्त फास्फोरस, आयरन, मैग्नीशियम, जिंक, कैल्शियम तथा पोटेशियम भी व्यापक रूप से पाया जाता हैं. इतने गुण शायद ही किसी और अन्य औषधि में मिलेंगे.

मुलेठी के औषधी रूप में इसकी जड़ काम में लायी जाती हैं. जो मुलेठी की जड़ आजकल आसानी से बाजार में मिल जाती है. और इससे भी ज्यादा आसान है इस औषधि का उपयोग करना.

MULETHI 1024x576 - मुठेली से करे सर्दी का उपचार

अब जानते है मुलेठी के उन सभी फायदों के बारे में जो आपको आज तक आपको मालूम नही थे और यही चमत्कारिक फायदे आपको सर्दी में राहत देंगे:-

  1. मुलेठी, चमत्कारिक रूप से सर्दी, जुकाम, गले की खराश, खांसी और दमा आदि श्वसन तंत्र के इन्फेक्शन को नष्ट करती हैं.
  2. मुलेठी में ANTIOXIDENT पाया जाता हैं जो श्वासननली में आने वाली सूजन को कम करती है जिससे साँस लेने की तकलीफ भी दूर होती है और शरीर में एंटीबायोटिक प्रभाव उत्पन्न करती है जिससे रोगों से को दूर करने के काम में सहायता मिलती है.
  3. मुलेठी, COUGH को गले से बाहर निकलने में प्रभावी है.
  4. मुलेठी, खांसी में आराम देती हैं.
  5. मुलेठी, एंटीवायरल के रूप में कई तरह के वायरस से लडती है.
  6. मुलेठी, इम्युनिटी को बढाती है. जिससे रोगों से लड़ने में सहायता मिलती है.

कैसे प्रयोग करे:

  • मुलेठी की जड़ को कूट पीस कर उसकी चाय बनाकर सेवन करे (साँस लेने में तकलीफ होने पर)
  • एक चम्मच शहद को आधा चम्मच मुलेठी के पाउडर में मिलकर दिन में 2 बार ले (गले में जलन और खराश होने पर)
  • काली मिर्च के साथ सामान मात्रा में (कफ होने पर)

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

UA-110862200-1