Home - शारीरिक स्वास्थ्य - रक्त सम्बन्धी बीमारियाँ - जागरूक हो जाये, खून की कमी के इन 5 लक्षणों के होने से पहले.. | KHUN KI KAMI FIVE SYMPTOMS
KHUN KI KAMI FIVE SYMPTOMS
KHUN KI KAMI FIVE SYMPTOMS

जागरूक हो जाये, खून की कमी के इन 5 लक्षणों के होने से पहले.. | KHUN KI KAMI FIVE SYMPTOMS

जागरूक हो जाये, खून की कमी के इन 5 लक्षणों के होने से पहले… KHUN KI KAMI FIVE SYMPTOMS

KHUN KI KAMI FIVE SYMPTOMS

blood 1813410 960 720 660x330 - जागरूक हो जाये, खून की कमी के इन 5 लक्षणों के होने से पहले.. | KHUN KI KAMI FIVE SYMPTOMS
KHUN KI KAMI FIVE SYMPTOMS

पहला लक्षण 

जिस किसी भी इंसान के शरीर में खून की कमी होती है तो खून की कमी से उसकी काम करने की शक्ति पर सीधा प्रभाव पड़ता है और काम करने की इच्छा कम हो जाती है। यहाँ तक कि उस व्यक्ति की इच्छा किसी भी काम को करने की नहीं रहती।

दूसरा लक्षण

अगर उसे कोई काम दिया जाए तो जल्दी थक जाता है और शरीर में बेचैनी तथा शरीर टूटने जैसा अहसास होता है। चूंकि खून की कमी सीधे तौर पर महिला एवं पुरुष दोनों पर असर करती है। आमतौर पर महिलाएं इस की जकड़ में जल्दी आ जाती है तथा महिलाओं पर इसका ज्यादा असर होता है। खून की कमी की वजह से महिलाएं घर के सामान्य काम भी ठीक से नहीं कर पाती है।

 तीसरा लक्षण

खून की कमी से व्यक्ति की भूख कम हो जाती है या मर जाती है। कुछ भी खाने का मन नही करता और जब कभी खाने की कोशिश करे भी तो खाना अच्छा नहीं लगता। यकायक खाने को लेकर अरुचि उत्तपन्न हो जाती है।

 चौथा लक्षण 

खाने को लेकर अरुचि तथा भूख ना लगने के कारण व्यक्ति ठीक से खाना नहीं पाता है और इस कारण उसके शरीर को आवश्यक एनर्जी प्राप्त नहीं होती है। जिससे शरीर में कमजोरी आ जाती है। इस स्थिति में कुछ काम किया भी जाता है अथवा काम करने का प्रयास किया जाता है तो व्यक्ति थक जाता जाता है और सांस फूलने लगती है।

पांचवा लक्षण 

जिस व्यक्ति के शरीर में खून की कमी हो जाती है, उसका रंग पीला पड़ जाता है तथा शरीर की चमक गायब हो जाती है। शरीर की रंगत का धीरे-धीरे पीला होता यह दर्शाता है कि उस व्यक्ति के शरीर में खून की कमी हो गई है। इस परिस्थिति में उंगलियों के जोड़ों के आसपास नाखूनों के पास मुंह के चारों ओर रंग कम लाल होता है और पीला पंजा लगने लगता है।

अगर आपके शरीर में यह लक्षण दिखाई दे रहे हैं तो तुरंत सावधान हो जाइए। इस स्थिति में लापरवाही करना जानलेवा भी साबित हो सकता है। किसी भी बीमारी की रोकथाम एवं उसका उपचार आवश्यक है। उपचार के साथ साथ खानपान का विशेष महत्व है। शरीर में खून की कमी का इलाज दवाओं के बजाए बेहतर खान पान के द्वारा अच्छे से किया जा सकता है। थोड़ी सी समझ और सावधानी से इसका इलाज आप स्वयं ही कर सकते हैं।


ये भी पढ़े:

Check Also

hotho ko swasth kaise rkhe How to keep lips healthy

होंठों को स्वस्थ कैसे रखे। How to keep lips healthy

होंठों को स्वस्थ कैसे रखे। How to keep lips healthy Hotho Ko Swasth Kaise Rkhe …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

UA-110862200-1